Quick Link

आदर्श ग्राम भालता में सांसद दुष्यंत का भव्य स्वागत, जन सुनवाई के साथ विकास योजनाओं की जानकारी

DSC_4096झालावाड़, 24 मई। सांसद दुष्यंत सिंह जिले में अपने सघन जन सुनवाई कार्यक्रम के दौरान ग्रामीण जनता की समस्याओं के समाधान के लिए प्रयासरत हैं, वहीं ग्राम विकास के लिए राज्य सरकार से स्वीकृत राशि की जानकारी देकर जागरूक भी बना रहे हैं। रविवार को उन्होंने मनोहरथाना विधानसभा क्षेत्र के आठ गावों का दौरा कर जन सुनवाई की। भालता को सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत चयनित करने पर जनता ने उनका भव्य स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया।

अपने दिन भर के व्यस्त दौरे की शुरूआत में उन्हांेने सबसे पहले डूंगरगांव पहुंचकर विभिन्न विभागीय अधिकारियों के साथ जन सुनवाई की। ग्रामीणो ने उनके समक्ष पेयजल, राशन, बिजली और खेल मैदान पर अतिक्रमण की समस्याओं से अवगत कराया। सांसद ने ग्रामीणों की मांग पर गादिया- मोहम्मदपुरा सड़क का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। गेहूंखेड़ी में सांसद से ग्रामीणों ने नरेगा की मजदूरी का भुगतान नहीं होने की शिकायत की। बिन्दाखेड़ा में ग्रामीण जनता की मांग पर सांसद ने बिन्दाखेड़ा, पाटलीखेड़ा, बावड़ीखेड़ा एवं ऊंचा का खेड़ा में पेयजल समस्या के शीघ्र समाधान के जलदाय विभाग को निर्देश दिए। सांसद के निर्देश पर चारों गावों में जल्दी ही ट्यूबवेल लगवाने की घोषणा विभाग के अधिशासी अभियंता ने की। उन्होंने बैरागढ़, आसलपुर, घाटोली और चुरेलिया में भी अभाव अभियोग सुने।

ग्रामीणों को बताई विकास की राशि
सांसद दुष्यंत सिंह ने सभी गावों में ग्राम सेवकों और विकास अधिकारी के माध्यम से वर्ष 2014-15 और 15-16 के दौरान एसएफसी, टीएफसी और निर्बंध योजना की मदों में सरकार से विकास के लिए प्राप्त राशि को सार्वजनिक करवाया। सांसद ने कहा कि यह राशि पंचायत भवनों पर भी प्रदर्शित करनी चाहिए, ताकि आम जन को भी अपने क्षेत्र के लिए उपलब्ध राशि की जानकारी हो सके।

किसी पर क्यों हंसना
ग्राम गेहूंखेड़ी में ग्राम सेवक शैलेन्द्र शर्मा को जब विभिन्न मदों की राशि बताने को कहा गया तो उन्होंने यह कहते हुए असमर्थता जताई कि मुझे अभी ज्यादा समय नहीं हुआ है और दो ग्राम पंचायतों का कार्यभार सम्हालना पड़ रहा है। इस पर सांसद ने पूछा कि कहां रहते हो, जवाब मिला कि रटलाई तो उन्होंने ग्राम सेवक की उम्र देखते हुए सवाल कर लिया कि काफी घूमते हो, तबीयत तो ठीक रहती है। इस पर कुछ लोग हंस पड़े तो दुष्यंत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि किसी पर हंसना अच्छी बात नहीं है। हमें उम्रदराज लोगों का सम्मान करना चाहिए। कभी हम भी ऐसे दिखेंगे तो क्या हम पर भी हंसोगे।

सांसद कोष से छह लाख की स्वीकृति
आदर्श ग्राम भालता में जनसुनवाई के दौरान सांसद ने एससी व माली मोहल्लों में नाली व सीसी सड़क निर्माण के लिए तीन-तीन लाख रुपये की राशि स्वीकृत करने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि आदर्श ग्राम के रूप में चयन के बाद ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज की ओर से 73 लाख रुपये की राशि स्वीकृत की गई है तथा 82 लाख रुपये के प्रस्ताव और भेजे गए हैं। उन्होंने गांव के कचरा प्रबंधन के लिए भी योजना बनाने के अधिकारियों को निर्देश दिए। जिला कलक्टर बिष्णु चरण मल्लिक ने भालता में कौशल विकास कार्यक्रम के माध्यम से युवाओं को रोजगार के क्षेत्र में प्रशिक्षित करने एवं महिला समूह के माध्यम से सेनिटरी नेपकिन उद्योग संचालित करने की योजनाओं की जानकारी दी। जिला परिषद के सीईओ रामपाल शर्मा ने बताया कि आदर्श ग्राम के रूप में चयनित होने के बाद जल्दी ही भालता गांव की तस्वीर ही नहीं तकदीर भी बदल जाएगी।

यह रहे साथ- इस दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता श्रीकृष्ण पाटीदार, जिला प्रमुख टीना कुमारी, उप जिला प्रमुख भागचंद दांगी, विधायक कंवरलाल मीणा व नरेन्द्र नागर, महामंत्री संजय जैन ताऊ, इंद्रजीत झाला, नरेन्द्र तोमर, प्रधान बेनाथ मीणा व मोरम बाई, गोविंद रानीपुरिया, दिंनेश मंगल, बृजमोहन गुर्जर, सुजान सिंह गुर्जर, अनूप गौतम, सुरेन्द्र काशवानी, घासीलाल लोधा, भंवरलाल घड़ावली, पूरीलाल तंवर, भूपेन्द्र सेन एवं नागेश शर्मा साथ रहे।