Quick Link

राज्य सरकार के मंत्रियों ने की विकास योजनाओं की चर्चा और पूछे काम

कार्यकर्ताओं को मिला मन की बात कहने का अवसर बारां, 17 जून। भारतीय जनता पार्टी के जिला स्तर पर मंत्री समूह की बैठकों के आयोजन के क्रम में बारां जिला मुख्यालय पर आयोजित बूथ स्तरीय सम्मेलन में जहां सरकार की कल्याणकारी योजनाओं पर चर्चा हुई, वहीं कार्यकर्ताओं को अपने मन की बात कहने का भरपूर अवसर भी मिला। इस आयोजन में सांसद दुष्यंत सिंह, सार्वजनिक निर्माण एवं परिवहन मंत्री युनुस खान, स्वायत्त शासन मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री हेमसिंह भडाना, जल संसाधन मंत्री डाॅ. रामप्रताप, शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी, जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्रीकृष्ण पाटीदार तथा भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामकिशोर मीणा शामिल हुए।

मांगरोल रोड स्थित एक रिसोर्ट में आयोजित इस कार्यक्रम को लेकर जिले भर के भाजपा से जुड़े बूथ कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह देखा गया। दूरदराज के गावो कस्बों से समूह के रूप में कार्यकर्ता सुबह 9 बजे से ही पहुंचना शुरू हो गए थे।

भाजपा मीडिया सेल के जिला प्रभारी राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि इस आयोजन के पीछे मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे की मंशा दूरदराज बैठे कार्यकर्ता की परेशानियों और विकास योजनाओं की क्रियान्विती तथा जनकल्याणकारी कार्यक्रमों की सफलता के बारे में फीडबैक हासिल करने की रही है। सम्मेलन में जिले भर से पांच हजार बूथ कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। विभिन्न सत्रों में बूथ कार्यकर्ताओं का मंडलवार मंत्रिगणों के साथ सीधा संवाद हुआ। सांसद दुष्यंत सिंह ने भी लगभग दो़ घंटे तक अभाव अभियोग सुने।

भाया ने किए खूब घोटालेः

सार्वजनिक निर्माण मंत्री यूनुस खान ने अपने उद्बोधन में कांग्रेस के पूर्व मंत्री प्रमोद जैन भाया को इंगित करते हुए सड़क निर्माण के क्षेत्र में उनके घोटाले गिनाए। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में बनी 87 सड़कों की जांच चल रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सूरतगढ़ से हनुमानगढ़ सड़क का सारा पैसा भाया ह़ड़प गए। भाया ने अपने मंत्रित्व काल में सिर्फ अपने ही लोगों को पनपाने का काम किया। खान ने बताया कि मुख्यमंत्री ने अपने पिछले दौरे में बारां जिले में 1000 करोड़ रुपये की राशि से सड़कों के निर्माण की घोषणा की थी, वह सभी कार्य बरसात के बाद प्रारम्भ हो जाएंगे।

सरकार की योजनाएं गिनाईंः

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री हेमसिंह भडाना ने कहा कि मुख्यमंत्री का प्रयास कल्याणकारी योजनाओं को अंतिम छोर तक पहुंचाने का है। उन्होने अपने उद्बोधन में सरकार की भामाशाह, स्वास्थ्य बीमा, अन्नपूर्णा, नारी सशक्तिकरण, शिक्षा, पंचायत राज सम्बंधी योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला।

परवन पर हमारी नीति साफः

जल संसाधन मंत्री डाॅ. रामप्रताप ने कहा कि बारां जिले में सिंचाई संसाधनों के विस्तार के प्रति भाजपा सरकार की नीति बिल्कुल साफ है। हम जो कहते हैं, वही करते भी हैं। उन्होंने परवन वृहद्चा सिचाई परियोजना को मुख्यमंत्री श्रीमति वसुंधरा राजे की सोच का परिणाम बताते हुए कहा कि पूर्व मंत्री प्रमोद भाया इसे लेकर अपने कार्यकाल में जनता को गुमराह करते रहे और जब इन्हें महसूस हुआ कि भाजपा की सरकार ने इस योजना की क्रियान्विती का मार्ग प्रशस्त कर दिया है तो आज पदयात्राएं करके आमजन को बरगलाने की कोशिश में हैं।

मुस्कुराता राजस्थान बनाने की सोचः

शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्री की सोच मुस्कुराता हुआ राजस्थान बनाने की है और इसे साकार करने में कार्यकर्ता ही मुख्य भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने बताया कि शिक्षा का स्तर सुधारने की दिशा में प्रदेश में पांच हजार सैकंडरी स्कूलों को क्रमोन्नत किया गया है, जिसमें बारां जिले के 150 स्कूल शामिल हैं। उन्होंने बताया कि कांग्रेस के शासन के दौरान राजस्थान देश में 21वें पायदान पर पहुंच गया था।

भरपूर विकास की सोचः

स्वायत्त शासन मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने कहा कि भाजपा सरकार की सोच विकास के क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित करने की है। हमने विकास की सोच को बदला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को जन कल्याणकारी योजनाओं के प्रति जागरूक बनाने का काम आम कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी से करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार हमारे ऊपर दो लाख करोड़ से ज्यादा का कर्जा छोड़ गई थी, इसमें से अकेले बिजली पर 77 हजार करोड़ रुपये की राशि शामिल थी। मुख्यमंत्री श्रीमती राजे के प्रयासों के चलते 60 हजार करोड़ की भरपाई बजट से की जा चुकी है।

रंगदारी में लिप्त है कांग्रेस नेता

जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्रीकृष्ण पाटीदार ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस के नेता आपराधिक और भ्रष्टाचारी तत्वों को संरक्षण देने पर आमादा हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर पायलट झालावाड़ में आपराधिक तत्वों के पक्ष में बयान देते हैं, दूसरी ओर पूर्व मंत्री प्रमोद भाया के धरना प्रदर्शन में शामिल होकर उनके भ्रष्टाचार को ढंकने के लिए बारां आते हैं।

सम्मेलन को विधायक रामपाल मेघवाल, ललित मीणा, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामकिशोर मीणा, भाजपा के जिलाध्यक्ष नरेश सिकरवार, वरिष्ठ नेता प्रेमनारायण गालव, चंद्रप्रकाश विजय, यशभानु जैन, रामशंकर वैष्णव आदि ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जिला प्रमुख नंदलाल सुमन, अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष मजीद मलिक कमांडो, महिला मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष मालिनी सिंह, अंता प्रधान मंजू दाधीच, पूर्व जिला प्रमुख सारिका चैहान, जिला महामंत्री जगदीश मीणा, सूर्यकांत शुक्ला, लक्ष्मीनारायण केरवालिया व मोरपाल सुमन, उपाध्यक्ष हिम्मत सिंह सिंघवी, रामस्वरूप यादव, हरगोविन्द जैन, ब्रह्मानंद शर्मा, शहर अध्यक्ष राकेश जैन, देहात अध्यक्ष अमरदीप सिंह केदाहेड़ी, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पुनीत माहेश्वरी, सुरेन्द्र सिंह रंधावा, निर्मल माथोड़िया, खेमसिंह डागुर, सत्येन्द्र सिंह केदाहेड़ी, खेमराज सिंह देंगनी, नंदकिशोर यादव सहित अनेक नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद थे।

बारां जिले को 10 बसों की सौगात

सम्मेलन के दौरान परिवहन मंत्री यूनुस खान ने बारां जिले को 10 नई रोडवेज बसों की सौगात दी। उन्होंने कहा कि सांसद दुष्यंत सिंह बारां एवं झालावाड़ जिलों में रोडवेज की सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत रहे हैं। उनकी ही अनुशंसा पर झालावाड़ और बारां डिपो को 10-10 नई बसें आवंटित कर दी गई हैं। इनके रूट शीघ्र ही निर्धारित कर दिए जाएंगे। सांसद सिंह ने इसके लिए मंत्री यूनुस खान का आभार व्यक्त किया।